बसपा प्रमुख मायावती ने सोमवार को लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि, भारत-चीन के बीच चल रहे विवाद के मुद्दे पर हम सरकार के साथ खड़े हैं। आपसी विवाद में चीन को फायदा मिल सकता है। कांग्रेस के लोगों को आपसी विवाद से बचना चाहिए। आरोप-प्रत्यारोप की घिनौनी राजनीति नहीं की जानी चाहिए। मायावती ने कहा कि, बसपा की अपनी अलग विचारधारा है। हम किसी के हाथ का खिलौना नहीं हैं। भाजपा और कांग्रेस की लड़ाई में देशहित के मुद्दे दब रहे हैं।

नियंत्रित करें महंगाई
मायावती ने आगे कहा कि, “जनता महंगाई से परेशान है। पहले से ही सभी लोग कोरोना से परेशान हैं और अब पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। केंद्र सरकार कीमतें नियंत्रित करनी चाहिए। चलाये जा रहे किसी भी अभियान का जमीन पर गरीब को लाभ नहीं पहुंचा है। सिर्फ योजनाएं लांच किये जाने से कुछ नहीं होगा उनकी निगरानी करना जरूरी है।

Leave a Reply