डॉ हर्षवर्धन (स्त्रोत: गूगल)

केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण के मुताबिक 7 मई, 2020 तक, देश में कोरोना महामारी के कुल 52,952 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 15,266 व्यक्तियों का इलाज हो चुका है और 1,783 मौतें हुई हैं। पिछले 24 घंटों में, 3561 नए पुष्ट मामले सामने आए हैं और 1084 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हो गए।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने गुरुवार को कहा कि अन्य देशों की तुलना में भारत बेहतर स्थिति में है। यहां मृत्यु दर 3.3% है और स्वस्थ होने की दर 28.83% है। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना संक्रमितों में आईसीयू में 4.8% मरीज हैं, वेंटिलेटर पर 1.1% और ऑक्सीजन के सहारे एक्टिव मामले 3.3% हैं। उन्होंने जांच क्षमताओं का जिक्र करते हुए कहा देश में जांच क्षमता बढ़ी है और 327 सरकारी प्रयोगशालाओं और 118 निजी प्रयोगशालाओं के साथ प्रति दिन 95,000 जांच की जा रही हैं। अब तक कोविड-19 के लिए 13,57,442 जांच की जा चुकी हैं।

कितने जिलों में मिले नए मामलें?

कोरोना महामारी के कहर के चलते अभी भी देश में 180 ऐसे जिले हैं, जहां से पिछले 7 दिन से कम समय में कोई नया मामला सामने नहीं आया है। 180 जिलों से 7-13 दिन के बीच, 164 जिलों से 14-20 दिन से और 136 जिलों से पिछले 21-28 दिन से कोई नया मामला सामने नहीं आया है। 13 राज्यों/ संघ शासित प्रदेशों यानी अंडमान और निकोबार द्वीप, अरुणाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, गोवा, झारखंड, हिमाचल प्रदेश, संघ शासित जम्मू और कश्मीर, केरल, लद्दाख, मिजोरम और ओडिशा ने पिछले 24 घंटे में किसी नये मामले की जानकारी नहीं दी है। दमन और दीव, सिक्किम, नागालैंड और लक्षद्वीप ये जगह ऐसी हैं जहां अब तक एक भी मामला दर्ज नहीं हुआ है।

कौन-से संसाधन उपलब्ध करवाये गए?

देश में 130 हॉटस्पॉट जिले हैं, 284 गैर-हॉटस्पॉट जिले और 319 गैर-प्रभावित जिले हैं। जिनमें कोरोना से निपटने के लिए कई उपाय अपनाए गए हैं।

1. देश में कोविड-19 से लोगों को बचाने के लिए अभी तक 1,50,059 बेड्स हैं, जिसमें आइसोलेशन बेड्स 1,32,219 हैं और आईसीयू बेड्स की संख्या 17,840 है।

2. 821 डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में 1,19,109 बेड्स हैं। जिसमें आइसोलेशन बेड्स 1,09,286 और आईसीयू बेड्स 9,823 हैं।

3. 7,569 क्वारंटाइन केन्द्र भी उपलब्ध करवाये गए हैं।

डॉ. हर्षवर्धन ने यह भी बताया कि अभी तक 29.06 लाख व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) और 62.77 लाख एन-95 मास्क राज्यों/संघ शासित प्रदेशों /केन्‍द्रीय संस्थानों के बीच वितरित किए गए हैं।

Leave a Reply