विशाल यादव

17 जून से शुरू होने वाली इंग्लिश प्रीमीयर लीग के मैचों में सभी खिलाड़ी अपनी जर्सी पर अपने नाम की जगह black lives matter नाम वाली जर्सी पहनकर खेलने उतरेंगे। इंग्लिश प्रीमियर लीग के अधिकारियों ने खुले शब्दों में रंगभेद का विरोध किया। इंग्लिश प्रीमियर लीग के अधिकारियों का मानना है, कि इंग्लिश फुटबॉल लीग में खेलने वाली कोई भी क्लब, खिलाड़ी, टीम मैनेजमेंट और मैच से जुड़े कोई ऑफिशियल और अनऑफिशियल लोग रंगभेद को पूरी तरह से विरोध करते हैं और उसको नकारतें हैं। लीग के सभी खिलाड़ी रंगभेद के खिलाफ एकजुट हैं और उस रंगभेद को खत्म करने प्रमुख उद्देश्य है। लीग के खिलाड़ी और अधिकारीयों का मानना है, कि रंगभेद के आधार पर किसी से भेदभाव ना हो और सभी को बराबरी का हक़ मिले। इंग्लिश फुटबॉल लीग के अधिकारियों ने 17 जून से खेले जाने वाले मैच के दौरान खिलाड़ियों को रंगभेद का विरोध अपने-अपने तरीकों से करने की अनुमति दी है। इससे पहले इंग्लिश क्लब आर्सेनल और ब्रैटफोर्ड टीम ने खेले दोस्ताना मुकाबले में ब्लैक लिव्स मैटर लिखी जर्सी पहनी थी। सभी क्लब अभ्यास के दौरान रंगभेद का विरोध अपने-अपने तरीकों से किया है।

डेरेन सैमी का रंगभेद मामला सुलझा

वेस्टइंडीज के क्रिकेटर डेरेन सैमी ने हाल में ही आईपीएल टीम सनराइजर्स हैदराबाद के अपने साथी खिलाड़ियों पर रंगभेदी टिप्पणी करने का आरोप लगाया था। अब सैमी ने गुरुवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए कहा कि वह उस रंगभेद टिप्पणी मामले को सुलझा लिया है। सैमी ने कहा, कि वह उस खिलाड़ी से फोन पर बात किए हैं जो उनको कालू शब्दों से संबोधित करते थे। उस खिलाड़ी का कहना है कि वह मुझे प्यार से बोलते थे। जिसके पीछे किसी भी तरह का रंगभेद जैसी मंशा नहीं थी। सैमी ने उस खिलाड़ी की बात पर भरोसा भी किया है। अब यह मामला सुलझ गया है और डेरेन सैमी अब अपने इस मामले को और अधिक तूल नहीं देना चाहते हैं।

तस्वीर: डेरेन सैमी ट्विटर

इससे पहले डेरेन सैमी रंगभेद टिप्पणी मामले में भारतीय एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने डेरेन सैमी के साथ होने की बात की है। स्वरा ने ट्वीट करते हुए कहा है कि सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाड़ियों को डेरेन सैमी से माफी मांगनी चाहिए।

Leave a Reply