स्रोत: ANI

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्षा और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने वीरवार को नए भूमि कानूनों का विरोध करते हुए कहा कि हम जम्मू-कश्मीर के संसाधनों की भारत सरकार द्वारा खुली लूट पर हम चुप नहीं बैठेंगे। पूरा कश्मीरी अवाम इसके खिलाफ लड़ेगा। नई दिल्ली काे कश्मीरी नहीं सिर्फ कश्मीर और इसके संसाधन चाहिए। वह भी पूंजीपतियों के लिए। नई दिल्ली मासूम कश्मीरियों को अपनी ताकत के दम पर दबा रही है और उधर लद्दाख में चीन के सामने चुप बैठी है। चाहे कुछ भी हो जाए, मैं नई दिल्ली के असंवैधानिक फैसलों के खिलाफ चुप नहीं रहूंगी।

पीडीपी ने आज नए भूमि कानूनों के खिलाफ विरोध रैली निकालने का प्रयास किया था, लेकिन प्रशासन ने अनुमति नहीं दी। पीडीपी के मुख्यालय को सील करने के अलावा पूर्व एमएलसी खुर्शीद आलम और वहीद उर रहमान पारा समेत तीन वरिष्ठ नेताओंको पुलिस ने हिरासत में लिया। रोष रैली की नाकामी केबाद अपने निवास पर पत्रकारों से बातचीत में महबूबा मुफ्ती ने कहाकि पूरे कश्मीर में अराजकता और अंधेरगर्दी का आलम बनाया गया है। पूरे कश्मीर को एक कैदखाने में तब्दील कर दिया गया है।

Leave a Reply