प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत बनाने के आह्वाहन को ध्यान रखते हुए केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ‘सहकार मित्र: इंटर्नशिप कार्यक्रम योजना (सिप)’ की शुरुआत की है।

उन्होंने कहा कि एनसीडीसी (राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम) सहकारी क्षेत्र के लिए अभिनव समाधान प्रदान करने में अत्यंत सक्रिय रहा है। एनसीडीसी की अनेक पहलों की श्रृंखला में सहकार मित्र- इंटर्न के रुप में एनसीडीसी और सहकारी समितियों के कामकाज से व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करने एवं सीखने का अवसर मिलेगा।

इस योजना के तहत कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों और आईटी जैसे विषयों के प्रोफेशनलों स्नातक इंटर्नशिप के लिए पात्र होंगे। कृषि-व्यवसाय, सहयोग, वित्त,अंतराष्ट्रीय व्यापार, वानिकी, ग्रामीण विकास, परियोजना प्रबंधन में एमबीए की डिग्री के लिए पढ़ाई कर रहे या अपनी पढ़ाई पूरी कर चुके प्रोफेशनल भी इसके लिए पात्र होंगे।

एनसीडीसी ने स्टार्ट-अप सहकारी उद्यमों को बढ़ावा देने के लिए एक पूरक योजना भी शुरु की है। सहकार मित्र योजना इसके साथ ही अकादमिक संस्थानों के प्रोफेशनलों को किसान उत्पादक संगठनों के रुप में सहकारी समितियों के माध्यम से नेतृत्व और उद्यमशीलता की भूमिकाओं को विकसित करने का भी अवसर प्रदान करेगी।

एनसीडीसी ने सहकार मित्र सवेतन इंटर्नशिप कार्यक्रम के लिए धनराशि अलग से आवंटित कर दी है। जिसके तहत प्रत्येक इंटर्न को 4 माह की इंटर्नशिप अवधि के दौरान वित्तीय सहायता मिलेगी। एनसीडीसी की वेबसाइट पर उपलब्ध इंटर्नशिप आवेदन के लिए ऑनलाइन आवेदन पोर्टल भी केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री द्वारा लॉन्च किया गया।

यह उम्मीद की जा रही है कि सहकार मित्र योजना सहकारी संस्थाओं को युवा प्रोफशनलों के नए और अभिनव विचारों तक पहुंचने में मदद करेगी, जबकि इंर्टन को क्षेत्र यानी फील्ड में काम करने का अनुभव प्राप्त होगा जो उन्हें आत्मनिर्भर होने का विश्वास दिलाएगा. इसके सहकारी समितियों के साथ-साथ युवा प्रोफेशनलों के लिए भी लाभपद्र साबित होने की उम्मीद है।

Leave a Reply