स्रोत : ANI

राजस्थान की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जब से NDA की सरकार आई है तब से हमारे पड़ोसी मुल्को के साथ संबंध बिगड़ते ही जा रहे हैं। क्या कारण है कि आज तमाम पड़ोसी मुल्क हमारे खिलाफ हो गए हैं? चाहे वह पाकिस्तान, नेपाल, श्रीलंका, चीन हो। यह अभी तक रहस्य बना हुआ है कि चीन के साथ क्या हुआ है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को देशवासियों को विश्वास में लेना चाहिए था परंतु दुर्भाग्य है कि जो तथ्य देश के सामने पेश किए गए उसका स्वागत चीन में हो रहा है। आज नहीं तो कल प्रधानमंत्री जी को हकीकत बतानी पड़ेगी कि वहां चीन के साथ क्या हुआ? छुपाने से काम नहीं चलेगा।

दरअसल बीते दिनों में भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है और पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में भारत की 20 सैनिक शहीद हो गए थे। इसके बाद चीन को लेकर पूरे देश में आक्रोश का माहौल है। जिसे देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी दलों के साथ मिलकर सर्वदलीय बैठक की जिसमें सभी दलों ने चीन से निपटने के लिए केंद्र सरकार का साथ देने को कहा।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्वदलीय बैठक में कहा कि ‘न वहां कोई हमारी सीमा में घुसा है, नाही हमारी कोई पोस्ट किसी के दूसरे के कब्जे में है।’
हमारे बलों को देश की रक्षा के लिए जो करना चाहिए वह कर रहे हैं, चाहे जवानों को तैनात करना हो, कार्यवाही करना हो या जवाबी कार्यवाही करना हो।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि हम हमारे वीर जवानों के साथ चट्टानों की तरह खड़े हैं।
इस बयान के बाद से विपक्ष सरकार को घेरते हुए नजर आई है।

Leave a Reply