Gajendra Singh Shekhawat

हर दिन के साथ राजस्थान (Rajasthan) का राजनीतिक संकट और गहराता चला जा रहा है। आज दोपहर में कांग्रेस नेता अजय माकन ने प्रेस कांफ्रेंस कर केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) के इस्तीफे की मांग किया। प्रेस को सम्बोधित करते हुए अजय माकन (Ajay Maken) ने आरोप लगाया कि भाजपा (BJP) की राज्य सरकारें और मंत्री जांच में सहयोग नहीं कर रहें हैं।

क्या है पूरा मामला

पिछले सप्ताह उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बगावती रूख के बाद एक कथित आडियो टेप सामने आया जिसमें केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) विधायक भंवरलाल से विधायकों को लेकर बातचीत कर रहें हैं। इस आडियो टेप के सामने आने के बाद भाजपा नेता के खिलाफ Anti Corruption Bureau राजस्थान ने मामला दर्ज किया गया।

आज के प्रेस कांफ्रेंस में क्या बोले अजय माकन ?

• भाजपा से हमारा सबसे पहला प्रश्न यह है कि जब गजेन्द्र सिंह का नाम FIR में आ गया, जब उनकी आवाज़ लोगों ने पहचान ली, तो क्या उन्हें यह अधिकार है कि वह अभी भी केंद्र सरकार में मंत्री पद पर बने रहें।

• काँग्रेस पार्टी यह मांग करती है कि गजेन्द्र सिंह शेखावत को या तो इस्तीफ़ा देना चाहिए या उनको तुरंत प्रभाव से हटा देना चाहिए, ताकि वो जाँच में किसी तरह का कोई हस्तक्षेप न कर सकें और साथ ही उनको आगे आकर अपना वॉइस सैंपल देना चाहिए।

• भाजपा की हरियाणा और दिल्ली की पुलिस, श्री गजेंद्र सिंह शेखावत, श्री भंवर लाल शर्मा व श्री विश्वेन्द्र सिंह के वॉयस सैंपल लेने से क्यों रोक रही है? अगर ये तीनों दोषी नहीं, तो सामने आकर वॉयस सैंपल देने में क्या खतरा है?

• क्या केंद्रीय भाजपा सरकार सीबीआई की धमकी इसलिए दे रही है कि विधायक खरीद घोटाले के तार में आला पदों पर बैठे केंद्र सरकार के लोग शामिल हैं व निष्पक्ष जाँच उनका चेहरा बेनकाब कर देगी?

• क्या देश को विश्वास में नहीं लेना चाहिए कि काला धन कहां से आ रहा है, कौन मुहैया करवा रहा है, हवाला से कैसे ट्रांसफर किया जा रहा है, किस-किस को दिया जा रहा है?

• क्या राजस्थान सरकार गिराने के इस काला धन आदान-प्रदान में शामिल लोगों का चेहरा बेनकाब नहीं होना चाहिए?

• अगर भाजपा की कोई भूमिका नहीं, तो केंद्र सरकार से लेकर हरियाणा सरकार, इनकम टैक्स, ईडी, हरियाणा पुलिस, दिल्ली पुलिस कांग्रेस विधायकों को विशेष सुरक्षा चक्र देने तथा राजस्थान पुलिस की जाँच से अलग रखने को इतनी मशक्कत क्यों कर रहे हैं?

Leave a Reply