सावन
सावन

श्री नाथ प्रपन्नाचार्य ज्योतिष मर्मज्ञ

Sawan 2021 : सनातन परंपरा में पूजे जाने वाले सभी देवी-देवताओं में भगवान शिव सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता हैं। जिनकी साधना-आराधना के लिए श्रावण मास अति उत्तम माना गया है। कोरोना काल में इस बार सावन के महीने की शुरुआत 25 जुलाई 2021 से प्रारंभ हो रहा है और 22 अगस्त 2021 तक चलेगा।

भगवान शिव बहुत ही भोले और औढरदानी हैं। बहुत ही सरल विधि से की जाने वाली पूजा से प्रसन्न हो जाते हैं। भोले भंडारी की पूजा जो जिस भाव से करता है, उसे वैसा ही फल प्राप्त होता है। ऐसे में हर शिव भक्त इस पावन के पावन मास में बाबा की भक्ति में डूबकर उनकी कृपा को पा लेना चाहता है। यदि आप भी इस सावन भगवान शिव का आशीर्वाद पाना चाहते हैं तो भोले बाबा का अपनी राशि के अनुसार पूजन करना न भूलें। तो आइए जानते हैं कि 12 राशियों से जुड़े जातकों को भगवान शिव का किस विधि से पूजन करना चाहिए —

मेष —मेष राशि के जातकों को भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर बेलपत्र पर सफेद चंदन से श्रीराम लिखकर अर्पित करना चाहिए। ऐसा करने से पूर्व शिवलिंग पर गंगाजल चढ़ाना भूलें।

वृष —भगवान शिव की कृपा पाने के लिए वृष राशि के जातकों को विशेष रूप से दूध-दही और शक्कर का प्रयोग करना चाहिए। सबसे पहले शिवलिंग पर दही से अभिषेक करें, फिर जल चढ़ाएं। इसके बाद शक्कर से अभिषेक करें और फिर जल चढ़ाएं। इसके पश्चात् दूध से अभिषेक करें और फिर जल चढ़ाकर सफेद चंदन से तिलक लगाएं और ​श्रद्धा भाव से शिव मंत्र का जप करें।

मिथुन —मिथुन राशि के जातकों को भगवान शिव की कृपा पाने के लिए शिवलिंग का शहद से अभिषेक करना चाहिए। इस उपाय को करने से न शिव की कृपा प्राप्त होगी और आर्थिक समस्याएं दूर होंगी।

कर्क —कर्क राशि के जातक इस श्रावण मास में शिवलिंग पर दूध, दही, गंगाजल एवं मिश्री से अभिषेक करना चाहिए। सुख-समृद्धि और संपन्नता पाने के लिए कर्क राशि के जातकों को यह उपाय जरूर करना चाहिए।

सिंह —सिंह राशि के शिव साधक भगवान शिव की कृपा पाने के लिए शुद्ध घी से अभिषेक करना चाहिए। इस पूजन से उनके जीवन में आ रही आर्थिक समस्याएं शीघ्र ही दूर हो जाएंगी।

कन्या —कन्या राशि के जातक को भगवान शंकर का आशीर्वाद पाने के लिए शिवलिंग पर चढ़ाने के लिए दूध, घी और शहद का विशेष रूप से प्रयोग करना चाहिए।

तुला —तुला राशि के जातकों को सावन के महीने में दही और गन्ने के रस से शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए।

वृश्चिक —भगवान भोलेनाथ का आशीर्वाद पाने के लिए वृश्चिक राशि के जातकों को गंगाजल और दूध में शक्कर मिलाकर शिवलिंग पर अर्पित करना चाहिए। इसके पश्चात् शिवलिंग पर लाल चंदन से तिलक जरूर लगाएं।

धनु —भगवान शंकर की कृपा पाने के लिए धनु राशि के जातकों को कच्चे दूध के साथ केसर, गुड़, हल्दी मिलाकर अभिषेक करना चाहिए। शुभ फलों की प्राप्ति के लिए पूजा में पीले फूल का प्रयोग करें।

मकर —मकर राशि के जातकों को शिवकृपा पाने के​ लिए घी, शहद, दही और बादाम के तेल से शिवलिंग का पूजन करना चाहिए। इसके पश्चात् नारियल का जल अर्पित करें और नीले रंग के फूल चढ़ाएं।

कुंभ —कुंभ राशि के जातकों को सावन के महीने में घी, शहद, शक्कर और बादाम के तेल से अभिषेक करना चाहिए। इसके पश्चात् नारियल का जल अर्पित करें और नीले रंग के फूल चढ़ाएं। इसके पश्चात् सरसों के तेल से तिलक करें और फिर रोली से तिलक लगाएं।

मीन —मीन रशि के जातकों को श्रावण मास में भगवान शिव का कच्चे दूध, केसर एवं गंगाजल से अभिषेक करना चाहिए। अभिषेक के बाद शिवलिंग का हल्दी एवं केसर से तिलक करें।

Leave a Reply