तैलचित्रों में बोलती है हिंदी की दुनिया

प्रभुनाथ शुक्लहिंदी सिर्फ़ भाषा नहीँ वह भावना, कला और संस्कार भी है। हिंदी हमारी आस्था है वह आत्मा में समाहित है। हिन्दुस्थान को अगर...

धोनी ने बताया छोटे शहर का लड़का भी क्रिकेट हर मुकाम हासिल कर सकता...

शशांक सिंहएक दौर था जब क्रिकेट के खेल में दिल्‍ली, मुंबई जैसे बड़े शहरों का दबदबा रहा। यहाँ तक कहा जाने लगा था...

विश्व हाथी दिवस: हाथियों और इंसानों की बदलती दोस्ती

प्रभुनाथ शुक्ल।हाथी मनुष्य का बेहद करीबी प्राणी है। भीमकाय हाथी इंसान के मामूली अंकुश के इशारे पर नाचता है। सरकस में रिंग मास्टर हाथी...

जन्माष्टमी विशेष : भगवान श्रीकृष्ण एक प्रेमावतार

हृदयनारायण दीक्षित।इतिहास भूत होता है। इसमें जोड़-घटाव उचित नहीं होता। जैसा घटित हुआ, वैसा ही इतिहास बना। हम चाहकर भी भूतकाल नहीं बदल सकते।...

लोकमान्य तिलक: पुण्यतिथि के सौ साल

महेन्द्र पाण्डेयभारतीय स्वाधीनता संग्राम का एक प्रबल तेजस्वी सूर्य जब अस्ताचल को जा रहा था तो वह अपनी प्रखर ऊष्मा के संरक्षण में...

असम बाढ़ और कोरोना वायरस के बिगड़ते हालत में एक उम्मीद की किरण

असम, जब भी यह नाम दिमाग में आता हैं तो हमारे मस्तिष्क में एक चित्र बनता है, जिसमें हमें सिर्फ पहाड़ ही पहाड़ और...

औपनिवेशिक-वामपंथी अर्थायन से तुलसी को आजाद करें

डाॅ सर्वेश सिंह5 अगस्त को जब भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या में भूमि पूजन करेगें तो यह एक विराट स्वप्न के साकार...

क्या है खादी-खाकी की केमेस्ट्री !

रजनीश चौरसियाए भईया! कानपुर कांड की चर्चा बंद करिए। आठ पुलिसकर्मियों का हत्यारा विकास दूबे मुठभेड़ में मारा गया। क्या बात कर रहे...

हमें अपने आस-पास के समाज को बदलना होगा

यशवंत सिंहमेरे प्रिय मित्र, मैं आज फेसबुक पर जुड़े सभी अनुज, अग्रज, सहपाठी, मित्र और रिश्तेदार का ध्यान चाहूंगा! शब्दों के बाजार में सबसे घृणित...