आज दिनांक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ,काशी हिन्दू विश्वविद्यालय विभाग का एक प्रतिनिधिमंडल कोरोना काल में परीक्षा के विषय में कुलपति प्रो.राकेश भटनागर जी से मिला एवं ज्ञापन सौंप कर छात्रों के जीवन एवं स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ऑफलाइन परीक्षा न कराने की मांग की एवं परीक्षा एवं मुल्यांकन करने के लिए विभिन्न प्रकार के सुझाव दिए जैसे कि :असाइनमेंट, रिपोर्ट,ऑनलाइन पोर्टल पर बहुविकल्पीय प्रश्न,डाक से असाइनमेंट ,रिपोर्ट आदि।विद्यार्थी परिषद ने मांग की कि कोरोना महामारी के काल एवं विभिन्न राज्यों में आई बाढ़ के चलते छात्रों पर फिजिकल परीक्षा देने का अनुचित दबाव न बनाते हुए मुल्यांकन के अन्य प्रारूपों एवं विकल्पो पर विचार हो जिससे छात्रों को विश्वविद्यालय आने का खतरा न उठाना पड़े।प्रतिनिधिमंडल में विभाग संयोजक अधोक्षज पांडेय एवं विभाग संगठन मंत्री रतनेश त्यागी रहे।

इस मौके पर विभाग संयोजक अधोक्षज पांडेय ने कहा कि,”वाराणसी में संक्रमण की बढ़ती रफ्तार एवं विभिन्न राज्यो में आई बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुए विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय बुला कर पारम्परिक परीक्षा कराया जाना उनके जीवन को खतरे में डालने वाला साबित होगा,ऐसे में एक जिम्मेदार छात्र संगठन होने के नाते अंतिम वर्ष के छात्रों के मुल्यांकन की आवश्यकता को समझते हुए विद्यार्थी परिषद ने मुल्यांकन के विभिन्न विकल्प एवं प्रारूपों के सुझाव कुलपति जी को दिए हैं, हम आशा करते हैं कि छात्रों के स्वास्थ सुरक्षा एवं भविष्य को ध्यान में रखते हुए कुलपति जी हमारे सुझावों को अमल में लाएंगे। “

Leave a Reply