शाम्भवी शुक्ला

फ्रांस से राफेल विमानों के आगमन की पूरी तैयारी कर ली गई है। बुधवार की दोपहर तक अंबाला वायुसेना अड्डे पर इन विमानों के पहुंचने की संभावना है। आपको बता दें कि यह विमान 7 हजार किलोमीटर की दूरी तय करके फ्रांस से भारत आ रहे हैं। जिनके स्वागत के लिए वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया भी अंब्ला एयर बेस पर मौजूद रहेंगे। राफेल के साथ ही भारतीय ग्राउंड स्टाफ भी भारत आएंगे। 4 साल पहले भारत ने 59 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल विमानों का सौदा किया था।

फ्रांस से भारत के लिए पांच राफेल विमानों का जत्था सोमवार को रवाना कर दिया गया था। सोमवार को ये सभी लड़ाकू विमान दाफरा (यूएई) हवाई अड्डे पर लैंड किए थे। जो कि आज अंबाला एयर बेस पर पहुंचेंगे। सफर के दौरान ही इनके तीस हजार फीट पर एयर रिफ्यूल की तस्वीरें कल सामने आई थी।

इन ताकतवर लड़ाकू विमानों के लिए भारतीय वायु सेना ने फ्रांस की वायु सेना का आभार जताया है। पहले जत्थे में आ रहे 5 विमानों में 3 एक सीट और दो 2 सीटों वाले विमान शामिल है।

पिछले दिनों जिस तरह भारत और चीन के बीच सीमा विवाद बढ़ा है। ऐसे में राफेल का भारतीय वायुसेना के साथ एक बड़ी कामयाबी है।

Leave a Reply