रिजू भगत

झारखंड राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने किसानो के ऋण माफी से संबधित दो हजार करोड़ रुपए के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। बुधवार को कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा की 1 अप्रैल 2014 से 31 मार्च 2020 के दौरान कर्ज लेने वाले करीब 08 लाख किसानो के ऋण माफ किए जाएंगे। कृषि विभागीय अधिकारियों के साथ जल्द बैठक कर ऋण माफी का अंतिम रूप दिया जायेगा

इस दौरान कृषि मंत्री ने बताया सरकार ने व्यापक अभियान चला कर कालाबाजारी कर रहे खाद काराेबारी पर कड़ी कार्रवाई की गई है। राज्य में कुल 1362 खाद काराेबारी प्रतिष्ठानाें का निरीक्षण किया गया। 133 खुदरा काराेबारियाें के लाइसेंस निलंबित किए गए। 134 के लाइसेंस रद्द हुए और 15 पर एफआईआर दर्ज की गई।

मंत्री ने यह भी जानकारी दी की सरकार जल्द एनडीबी के साथ एमओयू करेगी। सरकार ने तय किया है इस बार बीपीएल परिवार के साथ साथ ऐपीएल परिवार को भी दो-दो गाय देगी। इस वर्ष 12000 गायों का वितरण किया जायेगा। 30 हजार किसानाें के किसान क्रेडिट कार्ड बनाए जाएंगे।

Leave a Reply