एक बार फिर कल सुबह राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस को बताया कि सभी विधायकों को लिखकर इस बैठक में सम्मिलित होने का अनुरोध किया गया है। वहीं सचिन पायलट के तेवर बता रहें हैं कि वो और उनके समर्थक विधायक इस बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे। आज हुई विधायक दल की बैठक में अशोक गहलोत खेमें ने यह दावा किया कि उनके पास पूर्ण बहुमत है और उन्हें 109 विधायकों का समर्थन है। जबकि सचिन पायलट गुट का कहना है कि आज की बैठक में सिर्फ 84 विधायक ही हिस्सा लिए थे। अब एक बार फिर सबकी निगाह कल की बैठक पर टिकी हैं कि अगर सचिन पायलट और उनके विधायक इसमें हिस्सा नहीं लेते हैं तो क्या उनके खिलाफ कोई कार्रवाई होंगी।

इससे पहले सचिन पायलट को मनाने के लिए प्रियंका गांधी,राहुल गाँधी सहित 5 बड़े नेता लगे हुए थे। लेकिन सचिन पायलट की तरफ से कहा गया है कि उन्हें वित्त और गृहमंत्रालय के साथ-साथ प्रदेश अध्यक्ष का पद दिया जाए। जिसको लेकर आम सहमति नहीं बन पा रही है।

पूरे दिनभर क्या कुछ हुआ

सुबह कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि राजस्थान में सभी विधायक और मंत्री के लिए आलाकमान के दरवाजे हमेशा खुले थे ,खुले हैं और आगे भी खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि पिछले 48 से 72 घंटे के दौरान कई नेताओं ने सचिन पायलट से बात करने की कोशिश की है। अगर उन्हें किसी प्रकार की कोई दिक्कत है तो पार्टी फोरम में आकर अपनी बात कहें। हालांकि इस दौरान उन्होंने पार्टी में मतभेद की बात भी स्वीकारा। सुबह से चल रही मीटिंग में 97 विधायक भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर पहुंचे। रणदीप सुरजेवाला का कहना है कि कुछ विधायक निजी कारणों से भी नहीं पहुंच पाए हैं और आज शाम तक सभी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करेंगे। वहीं पायलट गुट का दावा है कि उनके पास तीस विधायकों का समर्थन है।

Rajsthan विधानसभा की मौजूदा स्थिति,कुल सीटें: 200
कांग्रेस-107,भाजपा-72,निर्दलीय-13,आरएलपी-3,बीटीपी-2,लेफ्ट-2,आरएलडी-1

Leave a Reply