स्रोत: ANI

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के चलते लंबे समय से बंद धार्मिक स्थलों को दोबारा खोलने को लेकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के मुख्यमंत्री को लिखे पत्र के बाद राजनीति शुरू हो गई है। इस मामले पर शिवसेना ने राज्यपाल कोश्यारी पर निशाना साधा है। शिवसेना के प्रवक्ता और सांसद संजय राउत ने राज्यपाल पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया है कि राज्यपाल का पत्र साबित करता है कि वे संविधान को मानने के लिए तैयार नहीं हैं।

शिवसेना के नेता संजय रावत से जब सवाल किया गया की शिवसेना सेक्युलर है? इस पर संजय रावत ने जवाब देते हुए कहा कि PM, राज्यपाल, राष्ट्रपति और हमारा संविधान भी सेक्युलर है, हिंदुत्व जरूर हमारे मन में है… हमारे कार्यों में हैं लेकिन देश तो सेकुलर से चलता है।
इस पर आ गए रावत कहते हैं राज्यपाल अगर CM के सेक्युलर होने पर सवाल उठाते हैं तो राष्ट्रपति को यही सवाल राज्यपाल और पीएम से पूछना चाहिए।

इसी के साथ संजय रावत कहते हैं कि अगर मंदिर की बात है तो एक राष्ट्रीय पॉलिसी बनानी चाहिए। प्रधानमंत्री को खुलकर सामने आना चाहिए कि आज रात से सभी मंदिर खुलेंगे। हम फिर मंदिर खोल देंगे।

Leave a Reply