ट्विटर

शांभवी शुक्ला

बिहार सरकार के उद्योग मंत्री श्याम रजक आज RJD में शामिल हो रहे हैं। इस बात की जानकारी तेजस्वी यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी।

आपको बता दें कि बीते 1 दिन पहले यानी रविवार को उन्हें नीतीश सरकार से बर्खास्त किया गया। जानकारी यह भी है कि आज वह अपने विधायक पद से भी इस्तीफा देंगे। वही राज्यपाल ने मंत्रिमंडल से रविवार को ही उनकी सदस्यता वापस ले ली थी।

आपको बता दें कि  फुलवारी विधानसभा क्षेत्र से विधायक और नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल में उद्योग मंत्री रहे श्याम रजक को मुख्यमंत्री की अनुशंसा पर मंत्रिपरिषद से हटाए गए हैं। इस पर जेडीयू ने उनकी प्राथमिक सदस्यता से भी निलंबित करते हुए पार्टी से निकाल दिया।

बिहार के इस राजनीतिक दंगल में हर मोड़ पर सस्पेंस बरकरार है। क्योंकि श्याम रजक बिहार की राजनीति में लंबे समय से बड़ा चेहरा बने हुए हैं। बिहार में दलित वोटरों की संख्या लगभग 16 फ़ीसदी है।

इसके अलावा श्याम रजक पहले से भी आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के करीबी के रूप में जाने जाते थे। वह आरजेडी और जेडीयू दोनों पार्टियों से करीब 25 साल विधायक रहे हैं। 1995 से लगातार अब तक छह बार विधायक रह चुके हैं। केवल 2009 के उपचुनाव को छोड़कर वही फुलवारी विधानसभा से लगातार चुने जाते रहे हैं।

JDU से निकाले जाने के बाद रजक के तेवर बदले नजर आ रहे हैं। उनका कहना है कि जेडीयू ने संविधान तोड़ा है। पार्टी में 99 फ़ीसदी नेता नीतीश कुमार से नाराज हैं, लेकिन वह कोई फैसला नहीं ले पा रहे हैं। मुझे दूसरों का पता नहीं लेकिन मैं आरजेडी में शामिल हो रहा हूं।