दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलें लगातार बढ़ते जा रहे हैं। रविवार को बढ़ते मामलों को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बैठक बुलाई जिसमें कई फैसले लिए गए और राजधानी दिल्ली में कोरोना से लड़ने के लिए आगे की रणनीति बनाई। बैठक खत्म होने पर अमित शाह ने कहा, केंद्र सरकार दिल्ली में फैल रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सारे प्रयास करेगी। बैठक में कई फैसले लिए गए जो आने वाले समय में लागू किये जाएंगे।

दिल्‍ली में इस वक़्त करीना के लगभग 39 हजार मामलें सामने आ चुके हैं। मरने वालों की संख्‍या भी 1,200 से ज्यादा ही गयी है। गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की करीब एक घंटे 20 मिनट चली बैठक में दिल्‍ली में कोरोना को रोकने, टेस्टिंग बेहतर करने, अस्‍पतालों में बेड बढ़ाने और बाकी हेल्‍थ इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर मजबूत करने पर कई फैसले लिए गए। दिल्‍ली को फौरन 500 रेलवे आइसोलेशन कोच दिए जाने का फैसला किया गया है। इसके अलावा टेस्टिंग को 3 गुुणा बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार दिल्ली की मदद करेगी।

बेड की कमी को देखते हुए 500 रेलवे कोच दिए जाने के बाद अब दिल्‍ली में 8000 बेड बढ़ जाएंगे। यह कोच कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं से लेस होंगे। दिल्ली के कन्टेनमेंट जोन में घर-घर जाकर हर एक व्यक्ति का हेल्थ सर्वे किया जायेगा, जिसकी रिपोर्ट 1 सप्ताह में आ जाएगी। इसके साथ ही गृह मंत्री ने हर व्यक्ति के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करवाये जाने के लिए भी कहा।

Leave a Reply