स्रोत - गूगल

अयोध्या में ढहाए गए बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई अदालत अब फैसला सुनाने वाली है। 27 साल बाद बाबरी विध्वंस मामले पर फैसला आने वाला है। इसपर फैसला सीबीआई के विशेष न्यायधीश एसके यादव 30 सितंबर को सुनाएंगे। इस दौरान एसके यादव ने कहा है कि फैसले वाले दिन सभी आरोपी लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती कोर्ट, विनय कटियार, और कल्याण सिंह में उपस्थित रहेंगे।

बता दें कि सीबीआई ने इस मामले से संबंधित 39 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की थी, हालांकि इनमें से 17 लोगों की मौत हो चुकी है। बता दें कि कोर्ट ने दोनों पक्षों की सुनवाई को सुनने के बाद अपने फैसले को सुरक्षित रख लिया है। ऐसे में अब न्यायधीश एसके यादव द्वारा 30 सितंबर को बाबरी विध्वंस मामले पर फैसला सुनाया जाएगा।

Leave a Reply