सोशल मीडिया

जोधपुर की अदालत ने हाल में रिलीज (ओटीटी) वेब सीरीज आश्रम में एक हिंदू संत को विवादास्पद तरीके से दिखाए जाने से जुड़ी याचिका पर सोमवार को फिल्मकार प्रकाश झा और अभिनेता बॉबी देओल को नोटिस जारी कर उनका जवाब मांगा है।

इस मामले के बाद से ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है,
#BanAashramWebseries इसके साथ ही टि्वटर यूजर्स लिख रहे हैं कि “बॉलीवुड नहीं ले रहा सुधरने का नाम, हिंदू धर्म को कर रहा है बार – बार बदनाम।”


एक यूजर लिखता है कि “पवित्र साधु संत साधना करके आश्रम बनाकर समाज को अपने धर्म व राष्ट्र के प्रति जागरूक करते है जिसके कारण ईसाई मिशनरियों का भारतीयों का धर्मांतरण करके अपनी वोट बैंक बना कर भारत की सत्ता हासिल करने का सपना पूरा नहीं हो पाया तथा विदेशी कंपनियों के खरबों के समान बिकने बंद हो गए, इसके कारण ये षड्यंत्रकारी कुछ करोड रुपए खर्च करके साधु संतों को बदनाम करवाने के लिए झूठी कहानियां बना कर आश्रम जैसी फिल्में बनाते है और झा जैसे जयचंद उनका साथ देते हैं।”

 

MX Player पर रिलीज हुई आश्रम सीरीज में बॉबी देओल ने काशीपुर वाले बाबा निराला की भूमिका निभाई है। सीरीज में दिखाया गया है कि बाबा निराला अपने आध्यात्मिक आश्रम में ड्रग्स और ह्यूमन ट्रैफिकिंग जैसे कारनामों में लिप्त हैं।
वेब सीरीज में हिंदू धर्म गुरुओं को बलात्कारी, भ्रष्टाचारी और ड्रग्स का व्यापार करने वाला बताया गया है। जिसे लेकर शुरुआत से ही विवाद था। इस सीरीज के दो सीजन रिलीज हो चुके हैं, जो काफी हिट रहे हैं। कुछ लोगों का आरोप है कि इस वेब सीरीज के जरिए उनकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। लिहाजा इस पर बैन लगाया जाए।

Leave a Reply