स्रोत : ANI

आम आदमी पार्टी के नेता और विधायक राघव चड्ढा और आतिशी को नगर निगम उत्तरी के सदन के नेता योगेश वर्मा की ओर से एक करोड़ का मानहानि का नोटिस भेजा गया है। इन दोनों नेताओं ने कुछ दिन पहले नगर निगम उत्तरी के भाजपा नेताओं पर आरोप लगाया था कि दिल्ली सरकार से कर्मचारियों से वेतन के लिए मिलने वाले पैसे नगर निगम के नेता भ्रष्टाचार के चलते डकार जाते हैं और कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा है।

वहीं, इस मुद्दे पर प्रेस वार्ता कर बुधवार को आप नेता राघव चड्ढा और आतिशी ने कहा कि हम इस नोटिस से डरने वाले नही हैं। उन्होंने कहा कि हम पूछना चाहते हैं के वेतन के लिए मिलने वाला पैसा आखिर कहां जाता है।

आतिशी ने कहा हमने भ्रष्टाचार के मुद्दे उठाए

आतिशी ने कहा कि उन्हें चुप रखने के लिए बीजेपी ने नोटिस भेजा है जबकि चड्ढा ने कहा कि उनकी पार्टी धमकाने वाले ऐसे हथकंडे से नहीं डरेगी। कालका जी से विधायक आतिशी ने कहा, ‘नगर निगमों में बीजेपी की तरफ से किए गए भ्रष्टाचार के मुद्दे उठाए जाने पर बीजेपी ने मुझे और राघव चड्ढा को नोटिस भेजा है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम में सदन के नेता, बीजेपी पार्षद योगेश कुमार वर्मा ने हम दोनों को एक करोड़ रुपये का नोटिस भेजा है।’ आतिशी ने दावा किया, ‘बीजेपी हमें चुप कराना चाहती है ताकि हम उनके भष्टाचार को उजागर नहीं करें। बीजेपी को लगता है कि मानहानि नोटिस भेजने से हम डर जाएंगे।’

राघव चड्ढा ने कहां बीजेपी का इरादा भ्रष्टाचार करने का है

राजेंद्र नगर से विधायक राघव चड्ढा ने कहा, ‘बीजेपी नेता योगेश कुमार ने हमारे खिलाफ आपराधिक और दीवानी मानहानि दोनों का नोटिस भेजा है। इसका मतलब है कि बीजेपी का दावा है कि हमने उत्तरी दिल्ली नगर निगम का अनादर किया है । यह साफ दिखाता कि बीजेपी का इरादा भ्रष्टाचार करने का है और अगर आप सवाल करेंगे या उनका पर्दाफाश करेंगे तो आपको मानहानि का नोटिस मिलेगा।’ उन्होंने कहा, ‘हम बीजेपी के भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ेंगे और बीजेपी की पोल खोलने के लिए मुहिम चलाएंगे।’

Leave a Reply