स्रोत: ANI

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बिहार प्रदेश इकाई की कार्यसमिति की बैठक को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाई हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना ऐसी बीमारी है जिसको भूतकाल में किसी ने नहीं देखा था। विकसित से विकसित देशों ने भी कोरोना संकट में खुद को असहाय समझा। ऐसे समय में पीएम मोदी ने स्पष्ट कहा कि जान है, तो जहान है। 130 करोड़ देशवासियों को सुरक्षित करने के लिए उन्होंने समय पर लॉकडाउन का फैसला लिया।

भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने रविवार को बिहार चुनावों के मद्देनजर बिहार प्रदेश भाजपा कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, भारतीय जनता पार्टी, जनता दल (यूनाइटेड) और लोक जनशक्ति पार्टी मिलकर चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आग्रह किया उन्हें न सिर्फ भाजपा की जीत सुनिश्चित करनी है बल्कि सहयोगी दलों के कंधों को भी मजबूती देनी होगी। नड्डा ने अपने संबोधन में एक बार फिर नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात दोहराया। उन्होंने कहा, हम नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं।

जेपी नड्डा ने यह भी कहा कि बिहार का रिकवरी रेट आज 73.48 प्रतिशत है। 10 करोड़ डोर टू डोर स्क्रिनिंग बिहार में की गई है। राज्य में 35 हजार से बढ़कर आज 1 लाख टेस्ट हो रहे हैं। इसके लिए में बिहार सरकार को बधाई देता हूं। आत्मनिर्भर भारत से देश को आगे बढ़ाने का प्रयास किया गया है। 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया। 3 लाख करोड़ रुपये एमएसएमई सेक्टर को दिया गया, इसमें से 1 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा वितरित भी कर दिए गए हैं। कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 1 लाख करोड़ रुपये दिए गए हैं।
नड्डा ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि 15 अगस्त को लाल किले से प्रधानमंत्री जी ने डिजिटल हेल्थ केयर की बात है देश में आप कहीं भी चले जाए, आपके डिजिटल हेल्थ कार्ड में आपके स्वास्थ्य की पूरी जानकारी होगी। इससे स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी क्रांति आएगी। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री ने लोकल फॉर वोकल की बात की है। बिहार में हमें मखाना उद्योग, मधुबनी पेंटिंग, भागलपुर के सिल्क उद्योग को आगे बढ़ाना है। मुजफ्फरपुर की लीची, होली का शहद इन शब्दों में आत्मनिर्भर भारत के तहत आगे बढ़ाना है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा कहते हैं बिहार में राजनीतिक और सामाजिक चेतना को बहुत ऊपर रखा है चंपारण सत्याग्रह, नवनिर्माण आंदोलन या जयप्रकाश जी को याद करें, तो पाएंगे कि जब सब ने समझौता कर लिया, तब बिहार ने नेतृत्व में दिया।

विपक्ष पर भी निशाना साधते हुए नड्डा ने कहा कि विपक्ष केवल बिहार में ही नहीं, बल्कि हर जगह अब एक खत्म हुई फोर्स मात्र है। उसके पास न विचार हैं, न ही दृष्टि है, न ही सेवा भाव। उन्होंने विपक्ष पर हल्की राजनीति करने का आरोप लगाया।