Yogi adityanath

शांभवी शुक्ला

आपको बता दें कि शुक्रवार की शाम मुख्यमंत्री योगी नोएडा में 100 बिस्तरों वाला कोविड अस्पताल के उद्घाटन के लिए पहुंचे। उद्घाटन के बाद शनिवार को उन्होंने जिले की समस्याओं पर चर्चा किया। चर्चा के दौरान जनप्रतिनिधियों ने जिले में हो रही समस्या पर उनका ध्यान केंद्रित कराया।

वही गौतमबुद्धनगर के सांसद ने कोविड अस्पताल के लिए सीएम का धन्यवाद किया। मुख्यमंत्री योगी ने जिले में कोविड-19 संबंधित व्यवस्थाओं पर प्रशासन की सराहना की।

दूसरी तरफ जनप्रतिनिधि के फ़ीस माफी के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कर दिया कि प्रदेश सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। इसके बाद जनप्रतिनिधि ने तर्क दिया कि वह शिक्षक रहे हैं और वह अभिभावकों की परेशानी को समझ सकते हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने उनके सामने सवाल रखा की लॉकडाउन में क्या वह तनख्वाह नहीं लेंगे?

यह सुनकर जनप्रतिनिधि के पास कोई तर्क नहीं था। इसके बाबत मुख्यमंत्री ने बताया की दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। उन्हीं के अनुसार जिला प्रशासन भी निर्देश तय कर रहा है। उन्होंने कहा की जो विद्यालय फीस माफ करना चाहते हैं, उनका स्वागत है। विद्यालय संचालन व शिक्षकों को तनख्वाह भी चाहिए। लिहाजा इसमें जब कोई बदलाव नहीं हो सकता तो यह फैसला कैसे संभव है।

Leave a Reply