स्रोत - ANI

बंगाल की खाड़ी में बना सुपर साइक्लोन एम्फन को लेकर ओडिशा, बंगाल समेत देश कई राज्य अलर्ट पर हैं।मौसम विभाग की ताजा जानकारी के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में उठे समुद्री चक्रवात एम्फन लैंडफॉल से पहले ओडिशा में कहर बरपा चुका है। वर्तमान में चक्रवात एम्फन पारादीप से पूर्व एवं दक्षिण पूर्व दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है।पारादीप, चांदबली और बालासोर, पुरी में इस समय काफी तेज गति से हवाएं चल रही है। इसके शाम तक बंगाल पहुंचने की उम्मीद है।
वहीं चक्रवात एम्फन का प्रकोप ओडिशा के तटीय जिलों में साफ तौर पर देखा जा रहा है। इसके प्रभाव से तटीय जिलों में तेज हवा के साथ भारी बारिश जारी है। कई जगहों पर पेड़ उखड़ कर गिर गए हैं। भद्रक जिले के खनदा गांव में महाचक्रवात के दौरान चल रही हवा के कारण एक घर की दीवार गिर गई। इसमें दबकर एक बच्चे की मौत हो गई है। कुछ जगहों पर तूफान के कारण पेड़ जड़ से उखड़ गए हैं तो कई जगहों पर पेड़ टूटकर रास्ते पर गिर गए हैं। साथ ही बासुदेवपुर प्रखंड में टेलीफोन के तार भी टूट कर गिर गया।स्थानीय सूत्रों से पता चला है कि बिजली के खंभे भी हवा के दबाव के कारण झुक गए हैं।
एम्फन के प्रभाव से तटीय ओडिशा में बारिश जारी है। कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए हैं। 1 लाख 37 हजार से अधिक लोगों को स्थानान्तरित कर लिया गया है। लैंडफाल के समय हवा की गति 155 से 165 किमी. तक रहने की सम्भावना है।
फिलहाल लोगों को सुरक्षित  स्थानों पर पहुंचाया रहा है और गिरे हुए पेड़ों को सड़कों से सा हटाया जा रहा है।