कोरोना (Corona Virus) काल में उत्तर प्रदेश (UttarPradesh) का तीन दिवसीय विधानसभा सत्र आयोजित किया जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री बसपा सुप्रीमों मायावती (Mayawati) ने ट्वीट करते हुए लिखा,” उत्तर प्रदेश में सत्ता व विपक्ष के विधायकों से मेरी पुरजोर अपील है कि वे विधानसभा के चल रहे वर्तमान सत्र में दलगत राजनीति से उपर उठकर जनहित के विशेष मुद्दों को जरूर प्रभावी ढंग से सदन में उठाकर शासन/ प्रशासन को जिम्मेदार व जवाबदेह बनायें। व्यापक जनहित की यही माँग है। वैसे तो विकास का मुद्दा सरकार के एजेण्डे से काफी हद तक गायब है, किन्तु महिला उत्पीड़न तथा दलितों, मुस्लिमों व ब्राह्मण समाज आदि की द्वेष की भावना से हो रही हत्यायें व अन्य अत्याचार आदि की अर्थात यूपी में बिगड़ी कानून-व्यवस्था को लेकर आवाज जरूर उठायें, समय की यह माँग है।”

उत्तर का मौजूदा विधानसभा सत्र तीन दिवसीय है। सोमवार को सत्र का अंतिम दिन रहेगा। इस तीन दिवसीय सत्र 65 वर्ष से अधिक उम्र के विधायकों को वर्क फ्राम होम करने का निर्देश दिया गया है। वहीं सत्र में मौजूद विधायकों को हमेशा मास्क लगाए रखना होगा।

Leave a Reply