गलवान घाटी की घटना के बाद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने प्रेस विज्ञप्ति के जरिए सरकार से सवाल पूछें हैं। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा ,”मार्च और अप्रैल के महीने से ही प्रधानमंत्री इस पूरे मामले पर चुप्पी साधे बैठें हैं। सेना के जवानों के साथ जो हुआ बर्दाश्त नहीं कर सकता कोई। पूरा इस घटना के बाद देश क्षुब्ध है।” साथ ही उन्होंने कहा कि जब पूरी घटना रात को हुई थी तब दोपहर में 12:52 पर इसकी जानकारी क्यूँ दी जाती है। और 16 मिनट बाद ही इस बयान को क्यूँ बदला गया। रणदीप सुरजेवाला ने सरकार से अपनी नीतियों को स्पष्ट करने को है।

मंगलवार दोपहर में अचानक खरब आती है कि चीनी सैनिकों से हिंसक झड़प में एक आफिसर और दो भारतीय जवानों की जान चली गई थी। बताया जा रहा कि इस दौरान गोली बारी तो नहीं हुई लेकिन झड़प काफी खतरनाक थी। भारतीय सेना की तरह से जवाबी कार्रवाई में तीन से चार चीनी सैनिकों के भी मारे जाने की खबर सामने आ रही है। फिलहाल दोनों देश बातचीत से इस मसले को सुलझाने में लगे हुए हैं।

आज दोपहर में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने विदेश मंत्री एस जयशंकर, CDS बिपिन रावत और तीनों सेना प्रमुखों के साथ बैठक की और वर्तमान हालात पर चर्चा की। जिसके बाद रक्षामंत्री ने प्रधानमंत्री से बात किया और पूरी घटना को बताया।

Leave a Reply