स्रोत - अमर उजाला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक की जिसमें उन्होंने 20 दलों को बुलाया बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि न कोई हमारे क्षेत्र में घुसा है और न ही हमारी जमीन पर किसी ने कब्जा किया है।
इसी पर शनिवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लद्दाख में चीन के साथ हुए गतिरोध पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर कहां की प्रधानमंत्री ने भारतीय क्षेत्र चीन को सौंप दिया है!

ट्विट

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘प्रधानमंत्री ने चीनी आक्रमकता के आगे भारतीय क्षेत्र को सौंप दिया है।’
राहुल गांधी ने सवाल किया कि अगर यह भूमि चीन की थी तो हमारे सैनिक क्यों शहीद हुए? वे कहां शहीद हुए?

क्या है विवाद
भारत और चीन की सेना के बीच पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग सो, गलवान घाटी, डेमचोक और दौलत बेग ओल्डी में गतिरोध चल रहा है। काफी संख्या में चीनी सैनिक अस्थायी सीमा के अंदर भारतीय क्षेत्र में पैंगोंग सो सहित कई स्थानों पर घुस आए हैं। भारतीय सेना ने घुसपैठ पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई है और क्षेत्र में शांति और स्थिरता के लिए उनकी तुरंत वापसी की मांग की है। गतिरोध दूर करने के लिए दोनों पक्षों के बीच पिछले कुछ दिनों में कई वार्ताएं हुई हैं। भारत और चीन का सीमा विवाद 3,488 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर है। चीन, तिब्बत के दक्षिणी हिस्से के रूप में अरुणाचल प्रदेश पर दावा करता है जबकि भारत इसे अपना अभिन्न अंग बताता है।

Leave a Reply