5 अगस्त को प्रधानमंत्री अयोध्या आकर राम जन्मभूमि का शिलान्यास करेंगे। कोरोना को देखते हुए इस कार्यक्रम में मात्र 200 लोग ही उपस्थित रहेंगे। साथ ही 5 अगस्त को अयोध्या की सीमाएं सील रहेंगी।

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या का दौरा कर चुके हैं। वही खबर है कि मुख्यमंत्री एक बार फिर 3 अगस्त को अयोध्या जाकर तैयारियों की समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री के अलावा DGP उत्तर प्रदेश भी तैयारियों का जायजा लेने उत्तर प्रदेश जा चुके हैं।

खुफिया एजेंसियों के हवाले से मिली खबर के अनुसार 1 अगस्त से 5 अगस्त के बीच आतंकी किसी बड़ी घटना को अंजाम देना चाहते हैं। जिसके कारण अयोध्या से सटे कई जिले भी हाई अलर्ट पर हैं।

कार्यक्रम में कौन-कौन सम्मिलित होगा इसकी अभी कोई विस्तृत जानकरी ट्रस्ट या जिला प्रशासन की तरफ से नहीं दी गई है। लेकिन मीडिया खबरों की मानें तो गृहमंत्री अमित शाह और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह इस कार्यक्रम में नहीं सम्मिलित हो रहें हैं। वही भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के सम्मिलित होने पर भी सस्पेंस बरकार है।

हालांकि RSS प्रमुख मोहन भागवत 3 अगस्त को लखनऊ पहुंच रहें हैं। वे कार्यक्रम में शामिल होंगे या नहीं अभी इसकी जानकारी भी जिला प्रशासन और ट्रस्ट की तरफ से नहीं दी गई है।

Leave a Reply