स्रोत:कैच हिंदी

यूपी बोर्ड के कक्षा 10वीं और 12 वीं के छात्रों का आज परिणाम जारी कर दिया गया है। छात्र अपना परिणाम upresult.nic.in, upmspresult.nic.in, upmsp.nic.in या upmsp.edu.in आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर देख सकते हैं। ये परिणाम यूपी के उपमुख्यमंत्री दिनेश कुमार शर्मा ने लखनऊ से जारी किया है। कोरोना वायरस के कारण इस बार यूपी बोर्ड का परिणाम देरी से जारो हुआ। कोरोना संकट के कारण लागू लॉकडाउन के वजह से इस बार उत्तर-पुस्तिका का मूल्यांकन करने में देरी हुआ।

डिजिटल मार्कशीट दिया जाएगा और बार कोड की भी सुविधा

कोरोना वायरस के कारण इस बार छात्रों को परीक्षा के परिणाम की कॉपी मिलने के जगह डिजिटल मार्कशीट दिया जाएगा। ये मार्कशीट छात्रों को उनके पंजीकृत स्कूल मेंदिया जाएगा। इस बार मार्कशीट पर बार कोड भी लगा रहेगा, ताकि छात्र आसानी से बार कोड का प्रयोग करके मार्कशीट को ऑनलाइन वेरीफाई कर सकें।

आकड़ों में परिणाम

10वीं और 12वीं परीक्षा बोर्ड के परिणाम पहली बार प्रयागराज से घोषित न होके लखनऊ से हो रहा हैं। इस बार 10 वीं और 12 वीं छात्रों को मिलाकर करीब 56,11,072 विद्यार्थी पंजीकृत हुए थे लेकिन, इसमें से 48,0591 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी थी। ऐसे में, 51,30,481 परीक्षार्थियों का ही परिणाम घोषित किया गया है।

कक्षा 10वीं में 30,24,632 पंजीकृत परीक्षार्थियों में 16,62,334 छात्र व 13,62,298 छात्राएं पंजीकृत हैं। वहीं, इंटर में 25,86,440 पंजीकृत परीक्षार्थियों में 14,64,604 छात्र व 11,21,836 छात्राएं पंजीकृत हैं।

इस बार यूपी बोर्ड के कक्षा 10 वीं में 30,24,632 विद्यार्थियों ने अपना पंजीकरण कराया था। इस बार यूपी बोर्ड के कक्षा 10वीं का आयोजन 18 फरवरी से 3 मार्च किया गया था। परीक्षाएं कुल 18 दिन तक चली थी।

वहीं, 2019 में 10 वीं की परीक्षा के लिए 30 लाख से ज्यादा छात्रों ने परीक्षा के लिए पंजीकृत कराया था। पिछले वर्ष 27 अप्रैल को परिणाम जारी किया गया था, जिसमें 80.06% छात्र सफल हो गए थे। 12 वीं

फेल हो गए छात्रों को निराश होने की जरूरत नहीं

कक्षा 10वीं और 12वीं में फेल हो गए छात्रों को निराशा होने की जरूरत नहीं है। बोर्ड के तरफ से छात्रों को रियायत दिया जा रहा है।

10 वीं में एक विषय में फेल होने वाले छात्र के परीक्षा परिणाम में पास कर दिया जाएगा। परीक्षार्थी चाहे तो फेल हुए विषय की इम्प्रूवमेंट परीक्षा देकर पास हो सकता हैं। उसे नया परीक्षा प्रमाण पत्र दिया जाएगा। अगर कोई छात्र इम्प्रोवमेंट नहीं देना चाहता है तो वह अगले साल की परीक्षा में बैठकर पास हो सकता हैं। उसे अभी जारी परीक्षा परिणाम में पास कर दिया जाएगा। दो विषय में फेल होने वाले छात्र कंपार्टमेंट की परीक्षा दे सकते हैं। इसमें से एक परीक्षा में भी पास होकर छात्र परीक्षा परिमाण में सफल माना जाएगा, उसे अगले साल होने वाले परीक्षा में बैठने की जरूरत नहीं होगी।

अगर कोई छात्र 12 वीं का एक विषय में फेल है तो वह इस साल होने वाली कंपार्टमेंट परीक्षा में बैठ सकता हैं। इसी साल वह छात्र परीक्षा परिणाम में पास हो जाएगा।

मुख्यमंत्री ने छात्रों का हौसला बढ़ाया

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी बोर्ड द्वारा जारी परीक्षा फल जारी होने से पहले छात्रों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा,” मेरे प्यारे बच्चों,आज यूपी बोर्ड का परीक्षाफल आना है। वैसे परीक्षा व परीक्षाफल आत्म विश्लेषण का माध्यम मात्र हैं।अतः प्रत्येक परीक्षाफल को सहजतापूर्वक स्वीकार करना ही श्रेष्ठ है।”

 

स्पीत बोर्ड आज 10 वीं और 12 वीं परीक्षा परिणाम जारी करेगा। दोपहर 12 बजे यूपी के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा लखनऊ के मीडिया सेंटर से परीक्षा का परिणाम जारी करेंगे।

Leave a Reply