प्रभुनाथ शुक्ला

भदोही,17 जुलाई । उत्तर प्रदेश के भदोही में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत 100 अज्ञात और 22 लोगों के खिलाफ़ पुलिस ने देर रात कोइरौना थाने में मुकदमा दर्ज किया है। इसमें वाराणसी के पूर्व सांसद और काँग्रेस नेता राजेश मिश्र और अजय राय का भी नाम शामिल है। पुलिस का आरोप है कि कोरोना संक्रमण काल में शांति व्यवस्था को प्रभावित करने और कोविड- 19 के दिशा निर्देशों का उल्लंघन हुआ है।

काँग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गुरुवार को गोपीगंज में हिरासत में लिया गया था। वह अपने तीन साथियों के साथ लखनऊ से सोनभद्र के उम्भा जा रहे थे। वहां ‘उम्भा नरसंहार कांड’ की बरसी पर ‘बलिदान दिवस’ कार्यक्रम के तहत श्रद्धांजलि अर्पित करते। लल्लू की गिरफ्तारी की ख़बर लगते ही काँग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं का जमावड़ा होने लगा। इस दौरान वाराणसी से दिग्गज काँग्रेस नेता अजय राय और राजेश मिश्र भी पहुँचने लगे। जिसकी वजह से काँग्रेस कार्यकर्ता नारेबाजी करने लगे। कार्यकर्ताओं की भीड़ देख पुलिस नेलल्लू को सीतामढ़ी गेस्ट हाउस भेज दिया था।

काँग्रेस अध्यक्ष लल्लू और पार्टी नेताओं ने गिरफ्तारी के बाद भजन- कीर्तन करने लगे। इस दौरान सोनभद्र के उम्भा गाँव में जमीनी विवाद में मारे गए आदिवासियों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की गई। काँग्रेस कार्यकर्ताओं ने मोमबती जलाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया। पुलिस का दावा है कि काँग्रेस अध्यक्ष लल्लू और कार्यकर्ताओं ने धारा- 144 का उल्लंघन किया है। इसके अलावा आपदा प्रबंधन के दौरान कोविड के दिशा निर्देशों का भी अनुपालन नहीँ किया है। सामजिक दूरी नहीँ बनाई और मास्क भी लोगों ने नहीँ लगा रखे थे।

Leave a Reply