वीवंडर फाउंडेशन और अनमोल सेवा समिति के संयुक्त तत्वाधान में 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पौधारोपण का कार्यक्रम हुआ।इस पौधारोपण के कार्यक्रम में दोनों संस्थाओं के माध्यम से 74 पौधे लगाएं गए और उन 74 पौधों को गोद लिया गया। इन पौधे की देखरेख की जिम्मेदारी संस्था के सदस्यों, वालंटियर द्वारा ली गई और हर एक पौधे का एक नाम दिया गया और हर पौधे को टैगिंग की गई।

संस्था के सदस्य और मेंटर सोनिया पांडे का आज 22वें जन्मदिन के अवसर पर 22 पौधे भी लगाए गए और उन पौधों की देखभाल की जिम्मेदारी ली गई।

74 पौधों में तीन तरह के पौधे लगाए गए, जिसमें पहला पीपल है। जैसा कि पीपल हमें ज्यादा मात्रा में ऑक्सीजन देता है। दूसरा नीम का पौधा ,जैसा कि शहर में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए नीम का पेड़ लगाया गया। नीम जो की कार्बन डाइऑक्साइड सोखने की क्षमता ज्यादा होती है।

जैसा कि वीवंडर फाउंडेशन गौरैया संरक्षण के क्षेत्र में कार्य कर रही है। इसलिए तीसरे तरह का पौधा बोगनवेलिया का पौधा लगाया गया। बोगनवेलिया की खासियत यह होती है कि यह कटीले और झाड़ीदार होते हैं जिससे कि गौरैया ज्यादा से ज्यादा मात्रा में इस पेड़ पर रहना पसंद करती हैं और अपना घोंसला बनाती है ,तो तीनों तरह के पौधे लगाने का जो मकसद यह है कि प्रकृति के संतुलन बनाये रखना।

इस कार्यक्रम के दौरान वीवंडर फाउंडेशन के अध्यक्ष गोपाल कुमार, सचिव धीरज विश्वकर्मा, कोषाध्यक्ष बागेश्वर मोदनवाल, और बोर्ड मेंबर समीक्षा मौर्या और सदस्य विश्वनाथ प्रसाद, और अनमोल सेवा समिति के अध्यक्ष अरविंद चक्रवाल और आकाश सिंह मौजूद थे।

Leave a Reply