स्रोत - ANI

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के सफेदाबाद इलाके में एक परिवार ने आत्महत्या कर ली। परिवार में तीन बच्चे और उनके माता पिता थे। सूचना मिलते ही पुलिस पड़ताल करने में जुटी है। प्राथमिक जांच में पाया गया कि माता पिता ने बच्चों को पहले जहर दिया फिर चाकू से गला रेत में की बात सामने आई है। इसके बाद दंपती ने भी सुसाइड कर लिया।

सुसाइड नोट मिला
40 वर्षीय विवेक शुक्ला प्रॉपर्टी का काम करते थे शुक्रवार की सुबह जब कमरों से बदबू आने लगी तो उसकी मां मिथिलेश कुमारी ने छत पर चढ़कर आंगन में देखा तो उसके पुत्र विवेक का शव लटका था। परिजनों ने जब घर का दरवाजा तोड़ा तो वहां का नजारा देखकर सभी सन्न रह गए। अनामिका वाह बच्चों का शव खून से लथपथ था उनकी चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी पुलिस ने मौके पर पड़ताल की तो सुसाइड नोट मिला जिस पर अनामिका व विवेक शुक्ला के साइन थे। जिस पर लिखा था कि आर्थिक तंगी के चलते उन्होंने यह कदम उठाया है। वह अपने परिवार को कोई सुख नहीं दे पाया इसलिए आत्महत्या कर ली।

स्रोत – ANI

विवेक की मां मिथलेश और पिता भुवन मोहन शुक्ला, उसके छोटे भाई मोहित शुक्ला, उसकी पत्नी, बच्चे से अलगाव था। परिवार में अनबन थी, कोई किसी से बोलता नहीं था। बगल में मृतक के भाई व मां-बाप रहते थे, उसके पास ही विवेक रहता था। मृतक के भाई मोहित ने बताया कि बड़े भाई से अनबन होने से वर्षों से बोलचाल नहीं थी। मुझे दो जून को दिखे थे, बाजार से पन्नी खरीदकर लाए थे। उसके बाद मुझे नहीं दिखे।

बाराबंकी के SP अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि आगे की कार्यवाही के लिए निर्देश दे दिए गए हैं और छानबीन जारी है।

Leave a Reply