उत्तर प्रदेश के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन ने शुक्रवार को बताया कि प्रदेश में अब कोरोना के सक्रिय मामलें 3828 हैं। इसमें ठीक होने वालों की संख्या 5648 है। अभी तक कोरोना संक्रमण से 257 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को 12589 सैंपल्स की जांच की गई थी।

प्रदेश स्वास्थ्य सचिव ने यह भी बताया कि “हम आशा कार्यकर्ताओं की मदद से राज्य में लौटने वाले प्रवासी मजदूरों पर नज़र रख रहे हैं। 12,80,833 मज़दूर अब तक ट्रैक किए जा चुके हैं, जिनमें से 1,163 ऐसे हैं जिनमें सिम्पटम्स नज़र आये हैं। उनके सैंपल परीक्षण के लिए एकत्र कर लिए गए हैं।”

8 जून से खोले जाएंगे धार्मिक स्थल:

गृह मंत्रालय के दिशा निर्देशानुसार 8 जून से धर्मिक स्थलों
को खोलने की इजाज़त मिल गयी है। उसके लिए लगातार तैयारी चल रही है। विभिन्न धार्मिक स्थलों को सेनिटाइज़ किया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना को ध्यान में रखते हुए सभी को निर्देश दिए हैं कि सभी निर्देशों को ध्यान में रखकर ही धार्मिक स्थलों को खोला जाए।

कॉन्फ्रेंस में उत्तर प्रदेश के गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि, “मुख्यमंत्री ने आज कहा कि भारत सरकार की तरफ से आए दिशा-निर्देशों के क्रम में धर्म स्थलों को खोले जाने से पूर्व प्रशासन व पुलिस के अधिकारीगण धर्म स्थलों के प्रबंधन से जुड़े लोगों से संवाद करें, उन्हें सभी सावधानियां सुनिश्चित करने की जानकारी दें”।

प्रत्येक धर्म स्थल पर सेनिटाइजर, इंफ्रारेड थर्मामीटर तथा पल्स ऑक्सीमीटर की व्यवस्था होनी चाहिए। यह सुनिश्चित किया जाए कि धर्म स्थल के अंदर एक बार में 5 से ज्यादा श्रद्धालु न हों। इसके साथ उन्होंने कहा कि उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि ऐसा जनपद जहां 25 हजार या इससे ज्यादा कामगार और श्रमिक लौटे हैं, वहां स्किल मैपिंग कार्य तेजी से पूरा किया जाए। अभी तक 1620 ट्रेन प्रदेश में आई हैं, जिनमें 21 लाख 90 हजार लोग सिर्फ ट्रेनों से आए हैं।

Leave a Reply