वैश्विक महामारी Covid-19 से उत्पन्न हुई परिस्थितियों ने जनमानस के जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है। जिसमें वृहद स्तर पर विद्यार्थी समुदाय भी प्रभावित हुआ है। ध्यातव्य रहे की Covid-19 का दुष्प्रभाव उस वक्त शुरू हुआ जब प्रदेश के शैक्षिक संस्थानों में परीक्षाएं या तो चल रही थी या परीक्षा सम्पन्न कराने की तैयारियां चल रही थी किन्तु Covid-19 से बचाव हेतु लागू की गई लॉक डाउन की परिस्थितियों के कारण अकस्मात ही शैक्षिक संस्थानो को बंद करना पड़ा। जिस से शैक्षिक कार्यो समेत परीक्षा व्यवस्थाये भी अव्यवस्थित हो गयी। “लॉक डाउन” की प्रकिया समाप्त होने के पश्चात शैक्षिक संस्थान परीक्षाएं आयोजित करने पर विचार कर रहे है। जिसके परिपेक्ष में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का मत है की Covid-19 से उत्पन्न हुई परिस्थितियों के कारण जन-जीवन अव्यवस्थित है जिसके कारण परीक्षाएं आयोजित करने में अत्यन्त कठिनाई का सामना करना पड़ेगा। परीक्षाओं के परिपेक्ष में अभाविप का यह स्पष्ट विचार है की परीक्षाओं के आयोजन से पूर्व महामारी से उत्पन्न होने वाले संक्रमण की परिस्थितियों पर व वर्तमान काल में परीक्षा संभव है या नही इस पर विचार किया जाए, अतः परीक्षाओं की तिथियों पर पुनर्विचार करते हुए इन्हें आगे बढ़ाने पर व परीक्षाओं के आयोजन में किसी प्रकार की जल्दीबाजी न हो इस पर गंभीरता पूर्वक विचार किया जाए। 
 
अभाविप के प्रदेश मंत्री श्री अंकित शुक्ला ने कहाँ की,  ” ABVP द्वारा आदरणीय उच्च शिक्षा मंत्री जी को प्रेषित अपने ज्ञापन में परीक्षा के विभिन्न विकल्पों जैसे प्रोजेक्ट वर्क, ग्रेडिंग प्रणाली, कैरी ओवर, वाईबॉ इत्यादि (ज्ञापन संलग्न) को सुझाया गया है तथा विशेष रूप से UGC, MHRD की गाइडलाइंस अनुसार अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षाएं प्रस्तुत विकल्पों के आधार पर सम्पन्न कराई जाए। वह यह भी आग्रह किया गया है की विद्यार्थी समुदाय की विभिन्न समस्याओं जैसे फीस माफी या विकल्पों पर विचार, किराया माफी व निवास संबंधी समस्याओं पर संवेदना पूर्वक अविलंब विचार किया जाया।”
अभाविप द्वारा यह सुझाव प्रदेश के विभिन्न शैक्षिक संस्थानों के विद्यार्थी समुदाय से विस्तृत चर्चा के पश्चात ही प्रेषित किया गया है। अतः अभाविप उत्तर प्रदेश सरकार से यह आग्रह करती है कि परीक्षा के प्रस्तुत विकल्पों को छात्र हीत में संवेदना पूर्वक विचार करते हुए परीक्षाएं सम्पन्न कराई जाए।
प्रतिनिधिमंडल में राष्ट्रीय मंत्री राहुल वाल्मीकि,प्रान्त मंत्री अंकित शुक्ला, प्रान्त कार्यकारिणी के विशेष आमंत्रित सदस्य डॉ राकेश द्विवेदी व प्रान्त सहमंत्री ईशदीप कौर रहे। उक्त जानकारी प्रान्त मीडिया सहसंयोजक अंशुमान बरनवाल ने दी ।

1 टिप्पणी

Leave a Reply