प्रशांत मिश्रा

आज तक कई फिल्मे आई है जो देश के इतिहास की कहानियों से जुड़ी हैं। उसमे में कुछ तो ऐसी हैं जिनको जितनी बार देखा जाए उतनी बार गर्व होता है।  इन्हीं में से एक कहानी है गुंजन सक्सेना का कारगिल युद्ध के दौरान भारत की ओर से एकमात्र महिला पायलट में शुमार होना। गुंजन सक्सेना की कहानी हम सभी के लिए प्रेरणादायक है। गुंजन सक्सेना की कहानी फिल्मी परदे के जरिए आपके सामने 12 अगस्त को रिलीज होगी। फिल्म में भारतीय वायु सेना की फ्लाइंग ऑफिसर गुंजन सक्सेना का किरदार निभा रही है अभिनेत्री जान्हवी कपूर। गुंजन सक्सेना द कारगिल गर्ल का ट्रेलर रिलीज हो गया है। यकीन मानिए 2 मिनट 42 सेकेंड के इस ट्रेलर को जब आप देखेंगे तो आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे और एक बार फिर आप उस गर्व को महसूस करेंगे जो कारगिल युद्ध के दौरान देशवासियों ने गुंजन सक्सैना को देखकर किया था। अभी तक इस ट्रेलर को दर्शक काफी पसंद कर रहें हैं।

ज्हानवी कपूर गुंजन सक्सेना के किरदार में काफी अच्छी लग रही हैं। पुरुष प्रधान समाज में महिला का आगे आना और एक ऐसा पेशा चुनना जिसने न सिर्फ अपनी जान का खतरा था बल्कि पूरे देश की साख का सवाल था, उस इज्जत को बरकरार रखा गुंजन सक्सेना ने। फिल्म में गुंजन सक्सेना की जिंदगी को बारीकी से दिखाया जाएगा इसका अंदाजा ट्रेलर से लग रहा है। गुंजन सक्सेना की कहानी को फिल्म के जरिए नेटफ्लिक्स पर 12 अगस्त को रिलीज किया जाएगा।

ट्रेलर में पंकज त्रिपाठी ज्हानवी कपूर बनी गुंजन सक्सेना के पिता के किरदार में नजर आ रहे हैं। एक आम परिवार से निकलकर कैसे गुंजन सक्सेना ने वो मुकाम हासिल किया जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी, अपनी ड्यूटी के दौरान गुंजन सक्सेना को कई बार मुश्किलों का सामना करना पड़ा। वो सब फिल्म में दिखाया जाएगा और इसकी झलक ट्रेलर में भी दिखती है।

किसी को अंदेशा नहीं था कि कारगिल में युद्ध के हालात बन जाएंगे। उस दौरान कब क्या कैसे हुआ और उसमें गुंजन सक्सेना का कितना अहम किरदार था ये फिल्म में दिखाया जाएगा ।कारगिल युद्ध के दौरान भारत की ओर से एकमात्र महिला थी जो युद्ध लड़ रही थी और वो थी गुंजन सक्सैना।

आपको बतादें कारगिल युद्ध की शुरुआत में किसी को भी इस बात का अहसास नहीं था कि ये युद्ध इतना बड़ा रूप ले लेगा। उस वक्त श्रीनगर में सिर्फ 4 हेलीकॉप्टर तैनात थे जिनमें से गुंजन हेलीकॉप्टर चीता उड़ा रही थी। 10 पायलटों के दल में वो एकमात्र महिला थी यकीनन इस कहानी को पर्दे पर देखना दर्शकों के लिए एक बेहद अलग सा एहसास होने वाला है। और दर्शकों को काफी अच्छा लगेगा।

फिल्म में दर्शकों को उसी दौर में ले जाने के लिए फिल्म मेकर्स ने काफी मेहनत की है और इसका अंदाजा फिल्म की लोकेशन को देखकर ही लगाया जा सकता है।ट्रेलर ने फिल्म को देखने का उत्साह बढ़ा दिया है। पायलट गुंजन ने 20 दिनों में 10 ऐसे मिशन पूरे किए थे जिसके बाद युद्ध में छोटे हेलीकॉप्टर को हटाकर फाइटर हेलीकॉप्टर लगा दिए गए थे। यही सब कहानी फिल्म में दिखाई जाएगी, तो बस इंतजार कीजिए 12 अगस्त का क्योंकि आपके सामने जान्हवी गुंजन सक्सेना के किरदार में पेश होने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। फिल्म को धर्मा प्रोडक्शन के बैनर तले बनाया गया है। फिल्म का निर्देशन शरण शर्मा ने किया है। इसमें अंगद बेदी, विनीत कुमार सिंह मुख्य किरदार में है। अब ट्रेलर के बाद दर्शकों को फिल्म का इंतजार है।

Leave a Reply