ट्विटर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस की घटना के लिए दोषी व्यक्तियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाने और प्रभावी पैरवी करने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं। साथ ही जांच हेतु 3 सदस्य SIT गठित की गई है। SIT अपनी रिपोर्ट 7 दिन में प्रस्तुत करेगी।

14 सितंबर की सुबह हाथरस के चंदपा थाना क्षेत्र में बूलगढ़ी गांव में इस निर्भया कांड को चार लोगों ने अंजाम दिया था। युवती खेत में चारा काट रही थी तभी गांव के ही चार युवक वहां पहुंचे और लड़की को खींचकर बाजरे के खेत में ले गए, जहां उन चारों ने इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना को अंजाम दिया। विरोध करने पर चारो दरिंदों ने लड़की को जमकर पीटा और लड़की को मरा समझकर वहां से फरार हो गए थे। इस केस में सामूहिक बलात्कार की धारा लगाने में हाथरस पुलिस ने 9 दिन का वक्त लगा दिया, जो सीधे तौर पर कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा रहा है।

Leave a Reply