उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने गुरुवार को प्रदेश में पहुंचे प्रवासियों के बारे में बताया। प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए 43 ट्रेनों की अनुमति दे दी गयी है। अभी तक 50 हज़ार से अधिक श्रमिक आज इन ट्रेनों के माध्यम से अपने घरों तक पहुंच चुके हैं।

अपर मुख्य सचिव ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि आज 43 ट्रेनें प्रवासी मजदूरों को लेकर प्रदेश में आ चुकी हैं। इन ट्रेनों की मदद से अलग-अलग राज्यों से 51,371 श्रमिक अपने राज्य पहुंचे हैं। आज 13 और ट्रेनें आएंगी। जिनमें लगभग 15500-15600 मजदूर और आएंगे। ये ट्रेनें आज 12 बजे तक पहुँच जाएंगी। इसके अलावा भी लगभग 43 ट्रेनों की और अनुमति दे दी गयी है।

उत्तर प्रदेश शुरू से ही दूसरे राज्यों में फंसे अपने लोगों को वापिस लाने के लिए बसें और ट्रेनें भेज रहा है। बसों की अगर बात करें तो अभी तक हरियाणा से 11200 लोग, मध्य प्रदेश से 6000, राजस्थान से 10000 से ज्यादा, उत्तराखंड से 1500, कोटा से 12000 से अधिक छात्र, प्रयागराज से 15000 छात्र अपने घरों तक पहुंच चुके हैं। इस तरह रोडवेज़ बसों के पहले चरण में लगभग 55700 लोग आये हैं। और ट्रेन के माध्यम से गुजरात से 32599, महाराष्ट्र से 7000 से अधिक, पंजाब से 4700, तेलंगाना से करीब 2400, कर्नाटक से 1200 इस तरह लगभग 50000 लोग ट्रेनों से वापिस आ चुके हैं।

Leave a Reply