मुन्नवर राणा

रामाशीष

अपने ऊपर शायरी चोरी का आरोप झेल रहे शायर मुनव्वर राणा ने शुक्रवार की देर शाम अप्रत्यक्ष रूप से जवाब दिया है। जो प्रतिक्रिया आई है उसमें प्रहार करते हुए लिखा गया है कि ‘मुनव्वर साहेब ने वो शेर दीवार फ़िल्म को देखने के बाद कोलकोता में 1977 में कहा ,,,उस वक़्त क्लेम करने वाले शायर तीसरी जमात में पढ़ रहे होंगे।’

आपको बता दें कि दूरदर्शन में कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने शायर राणा पर हिंदी कवि आलोक श्रीवास्तव की पंक्ति चुराने का आरोप लगाया है, इस आरोप के साथ आलोक अभी भी खड़े हैं।

दरअसल मामला यह है कि दावा किया जा रहा है कि आलोक की लिखी पंक्ति ‘मैं घर में छोटा था मेरे हिस्से में आई अम्मा’ के साथ मुनव्वर राणा ने छेड़छाड़ करके लिखा है कि “मैं घर में छोटा था मेरे हिस्से में माँ आई।”

पूरे दिन भर मुनव्वर को लेकर सोशल मीडिया पर फब्तियाँ कसी गयीं। उन्हें चोर कहा गया। ट्विटर पर ट्रेंड कराने की कोशिश भी हुई। वहीं, उनके फैन्स उनकी प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहे थे।

ऐसे में इसी बीच मिर्जा बिकानेरी (विजेंद्र) नाम के यूजर ने (bio में लिख रखा है – officer in police force) ने आरोप लगा रहे अशोक के ट्वीट को रीट्विट करके एक पोस्ट डाला है, जिसमें आरोप का खंडन है, जिसे मुनव्वर राणा ने रीट्विट किया। उनके द्वारा रीट्विट करने का इशारा यही है कि वह इस ट्वीट से सहमत हैं।

तंज कसते हुए यूजर विजेंद्र ने एक तथ्य लिखा है कि “अशोक जी आपकी इस बात से कोई इतेफाक नहीं रखेगा जो शायरी की दुनिया से वाकिफ है। मुनव्वर साहेब ने वो शेर दीवार फ़िल्म को देखने के बाद कोलकोता में 1977 में कहा ,,,उस वक़्त क्लेम करने वाले शायर तीसरी जमात में पढ़ रहे होंगे। सस्ती लोकप्रियता के लिए ऐसे इल्ज़ाम शर्मनाक है।” हालांकि मुनव्वर ने अपनी तरफ से कोई लिखित प्रतिक्रिया नहीं लिखी है।

उल्लेखनीय है कि मुनव्वर ने बीते दिन अपने एक ट्वीट में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि देश में 100 करोड़ जानवर और 35 करोड़ इंसान हैं। राणा का यह ट्वीट यूजर्स को नागवार गुजरी और उनपर हिन्दुओं को जानवर और मुसलमानों को इंसान कहने का आरोप लगाकर सभी टूट पड़े। हालांकि बाद में शायर राणा सफाई देते नजर आये कि हमारे ट्वीट को तोड़ मरोड़ा गया है। इसी के बाद पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने अपने ट्वीटर वॉल पर एक पत्र साझा किया, जिसमें जिसमें आलोक ने साहित्यिक अंदाज में मुनव्वर को चोर कहा है।

सोशल मीडिया पर दो धुरंधर शायरों के बीच साहित्यिक सम्पति की चोरी को लेकर छिड़ी जंग कब तक चलेगी, यह तो वक्त ही बतायेगा।

Leave a Reply