ANI.

सोमवार को फ्रांस एयरबेस से 5 राफेल लड़ाकू विमानों ने भारत के लिए उड़ान भर दी है। 29 जुलाई को इनके भारत पहुंचने की बात कही जा रही है। ये बुधवार को 7000 किलोमीटर की हवाई दूरी तय करके अंबाला एयरबेस पहुंचेंगे। फ्रांस में भारतीय राजदूत जावेद अशरफ़ ने फ्रांस को इन विमानों के लिए शुक्रिया कहा। उन्होंगे कहा कि ‘ये 5 राफेल जेट बेहद तेज, बहुमुखी और बहुत घातक विमान हैं। मैं समय पर विमान देने के लिए डसॉल्ट का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं, इसके साथ ही मैं फ्रांसीसी सरकार और फ्रांसीसी वायु सेना का सभी प्रकार की सहायता के लिए शुक्रिया कहना चाहता हूँ’।

फ्रांस से रवाना हो रहे इन विमानों को सबसे पहले संयुक्त अरब अमीरात के एक एयरबेस पर उतारा जाएगा। इसके बाद विमान अंबाला एयरबेस के लिए आगे का सफर तय करेंगे। अंबाला के एयरफोर्स स्टेशन पर इन्हें 29 जुलाई को वायुसेना में शामिल किया जाएगा।

बता दें कि अक्टूबर 2019 में ही भारत को पहला राफेल विमान सौंपा गया था। जो 5 राफेल भारत को अब मिल रहे हैं वह पहले मई में मिलने वाले थे, लेकिन कोरोना के चलते इसमें देरी हो गयी। 2016 में भारत ने फ्रांस से इन विमानों का सौदा 60 हजार करोड़ रुपये में किया था।

Leave a Reply