स्रोत : फाइनेंशियल टाइम

शाम्भवी शुक्ला

USA election: अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का के अनुसार अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव पर चीन दखल दे सकता है। आपको बता दें कि आगामी 3 नवंबर को अमेरिका में चुनाव है। इस मामले में अमेरिकी सांसदों ने भी चिंता जताई है। रिपब्लिकन सांसदों ने चीनी ऐप टिक टॉक को लेकर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने मांग की है कि भारत की तरह अमेरिका में इन ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया जाए। इसके अलावा 7 सांसदों के एक समूह ने नेशनल इंटेलिजेंस निर्देशक जॉन रेडक्लिफे, फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) के निर्देशक क्रिस्टोफर रेप और गृह सुरक्षा मामलों के कार्यकारी मंत्री चाड वोल्फ को पत्र भी भेज दिया है। उनको डर है कि चीन रूस और ईरान अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप कर सकते हैं। उनका यह भी कहना है कि ट्रंप प्रशासन चुनाव की सुरक्षा और निष्पक्षता बनाए रखने के लिए सही कदम उठा रही है।

वहीं दूसरी तरफ आगामी 3 नवंबर के चुनाव टलने की भी संभावना है। आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते प्रभाव के कारण इन चुनाव के तलने के कयास लगाए जा रहे हैं। दुनिया में अगर कोई देश सबसे अधिक इससे प्रभावित है तो अमेरिका ही है। ऐसी स्थिति में देशव्यापी चुनाव करा पाना असंभव दिख रहा है।

Leave a Reply