तस्वीर: एफसी बायर्न इंग्लिश ट्विटर एकाउंट

विशाल यादव

बुंदेसलिगा फुटबॉल लीग में बुधवार को खेले गए एक मुकाबले में बायर्न म्यूनिख ने वेर्डर ब्रेमेन को 1-0 से हराकर बुंदेसलिगा खिताब जीत लिया। बायर्न म्यूनिख का यह लगातार आठवां बुंदेसलिगा खिताब है। फुटबॉल क्लब बायर्न म्यूनिख यह फुटबॉल लीग 2013 से लगातार जीतते आ रही है। बायर्न म्यूनिख बुंदेसलिगा के इतिहास के सबसे अधिक 58 में से 30 बार खिताब जीतने वाली टीम भी है। बायर्न म्यूनिख इस खिताबी जीत के साथ बुंदेसलिगा की सबसे सफल टीम होने का श्रेय बरकरार रखा है। इस मैच में जीत मिलने के बाद बायर्न म्यूनिख बुंदेसलिगा में 32 मैच खेलकर 76 अंकों के साथ टॉप पर है। बायर्न म्यूनिख की चिर प्रतिद्वंदी बॉरशिया डॉर्टमुंड 31 मैचों में 66 अंक के साथ दूसरे नंबर पर है। दोनों टीमों के बीच कुल 10 अंकों का अंतर है। बायर्न म्यूनिख को अभी दो मैच और खेलना है और लीग में टॉप पर रहने वाली टीम को विजेता घोषित किया जाता है।

बुधवार को खेले गए इस मुकाबले का एकलौता गोल जेरोम बोटेंग के चिप्ड पास पर रॉबर्ट लेवांडोव्स्की ने 43 वें मिनट मारा। पोलैंड स्ट्राइकर रॉबर्ट लेवांडोव्स्की ने इस बुंदेसलिगा सीज़न में कुल 31 गोल करके टॉप पर बरकरार हैं। ब्रेमेन के खिलाफ खेले गए मैच में बायर्न म्युनिख के अल्फासों डेविस को रेफरी से दो पीला कार्ड मिलने की वजह से मैच से बाहर कर दिया गया। जिससे इस मैच को बायर्न म्यूनिख ने 10 खिलाड़ियों के साथ खेल खत्म किया। खेल खत्म होने के बाद एफसी बायर्न म्यूनिख में खिताब जीतने का जश्न खाली स्टेडियम में मनाया।

Leave a Reply