प्रशांत मिश्रा

आज पूरी दुनिया कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी से परेशान है और कोरोना का कहर आए दिन देशभर में बढ़ता ही जा रहा हैं। सबसे ज्यादा केस भारत में महाराष्ट्र में फेल रहे हैं। अब तक यहां 2 लाख से भी ज्यादा केस सामने आ गए हैं। कोरोना के खिलाफ सरकारें तमाम कोशिशें कर रही है। सरकार की मदद के लिए कई सेलेब्स भी आगे आ रहे हैं। किसी ना किसी तरह से लोगों की मदद कर रहे हैं। इसी बीच जाने माने एक्टर सोनू सूद एक बार फिर आगे आए हैं। दरअसल, सोनू सूद ने महाराष्ट्र में पुलिस कर्मियों के लिए 25,000 फेस शील्ड दी हैं, राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने गुरुवार को इस बात की जानकारी सोशल मीडिया पर दी है।

अनिल देशमुख ने ट्वीट किया, “मैं अपने पुलिस कर्मियों के लिए 25,000 #FaceShields देने के आपके उदार योगदान के लिए @SonuSood जी को धन्यवाद देता हूं।” मंत्री ने माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर दोनों की एक तस्वीर भी साझा की।
गौरतलब है कि सोनू ने इससे पहले भी मुंबई के जुहू स्थ‍ित होटल के दरवाजे भी मेडिकल वर्कर्स के लिए खोल दिए थे। इसके पहले जब देश में लॉकडाउन लगा तो उन्होंने अपने पिता शक्ति सागर सूद के नाम पर एक स्कीम लॉन्च की थी, जिसके तहत वो रोज 45 हजार लोगों को खाना खिला रहे थे। इतना ही उन्होंने मुंबई पुलिस के लिए भी मास्क का इंतजाम किया। अपने इन कार्यों के चलते कई फैंस ने सोशल मीडिया पर ये भी कहा था कि आपदा की इस घड़ी में सोनू सूद ने जिस तरह का काम किया है, उन्हें भारत रत्न से नवाजा जाना चाहिए।

वहीं अब लगातार 3 महीनों से सोनू ने मुंबई समेत और भी कई राज्यों में रहने वाले प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए मदद कर रहे है।   सोनू और उनकी टीम ने इस संबंध में टोल फ्री नंबर और व्हाट्सअप नंबर भी जारी किया था। मार्च में नेशनल लॉकडाउन की वजह से फंसे लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए सोनू ने खाना, बस, ट्रेन के साथ ही एयरप्लेन की भी व्यवस्था की थी। लॉकडाउन के बीच हजारों माइग्रेंट वर्कर्स की मदद के चुनौतीपूर्ण अनुभवों को सोनू सूद किताब की शक्ल देने जा रहे हैं। ये किताब इस साल के अंत तक प्रकाशित की जाएगी। सोनू ने इस भयानक बीमारी के संकट में लोगों की काफी सहायता की है लोगों ने उनके इस काम को काफी पसंद भी किया और उनकी तारीफ भी की है। कई लोगों ने तो सोनू को रियल लाइफ हीरो भी कहा है।

Leave a Reply